NCL बना रहा रेलवे स्टेशन, भूमी पूजन कर रही सांसद रीति पाठक

एनसीएल बना रहा सिंगरौली रेलवे स्टेशन पहुँच मार्ग सांसद,सीधी-सिंगरौली श्रीमती रीती पाठक ने बतौर मुख्य अतिथि किया भूमि पूजन

रिपोर्ट समीम बेग

वैढ़न, सिंगरौली  भारत सरकार की मिनिरत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड देश की ऊर्जा आवश्यकताओं की पूर्ति के साथ ही आस पास के क्षेत्र के उत्थान के लिए लगातार कार्य कर रही है जिसमें सड़कों का निर्माण एक मुख्य भाग है। इसी कड़ी में एनसीएल, सिंगरौली रेलवे स्टेशन पहुँच मार्ग बनवा रही है जिसका शनिवार को माननीय सांसद सीधी-सिंगरौली रीती पाठक ने भूमि पूजन किया। इस कार्य के तहत काँटा-मोड़ से गोरबी रेलवे क्रोसिंग के बीच 5.5 करोड़ की लागत से लगभग 6 किलोमीटर लंबाई एवं 7.5 मीटर औसत चौड़ाईं का डामरीकरण के साथ अगले 5 साल तक के रख रखाव का प्रावधान है। 

NCL बना रहा रेलवे स्टेशन, भूमी पूजन कर रही सांसद रीति पाठक

इस सड़क के बन जाने से गोरबी, कसर, ब्लॉक-बी, मोरवा व जयंत आदि के रहवासियों को सिंगरौली रेल्वे स्टेशन पहुँचने में आसानी होगी। साथ ही यह सड़क सिंगरौली रेलवे स्टेशन के आस-पास के लोगों की यात्रा को और भी सुविधा जनक बनाएगी । इस कार्यक्रम में माननीय सांसद,सीधी-सिंगरौली श्रीमती रीती पाठक के साथ माननीय विधायक सिंगरौली श्री रामलल्लू बैस, एनसीएल के महाप्रबंधक (सिविल) श्री ए के सिंह सहित अन्य गणमान्य उपस्थिति रहे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए माननीय सांसद महोदया ने एनसीएल द्वारा क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की सराहना की और उम्मीद जताई कि आने वाले समय में भी कंपनी ऐसे ही गुणवत्ता पूर्ण कार्य करती रहेगी।

गौरतलब है कि एनसीएल वृहद स्तर पर सिंगरौली क्षेत्र की सड़कों के निर्माण पर कार्य कर रही है । एनसीएल ने जयंत बस स्टैंड से रेलवे स्टेशन के नज़दीक स्थित काँटा मोड़ तक की सड़क निर्माण एवं चौड़ीकरण के लिए दो अलग निविदाएँ जारी की हैं, दोनों सड़कों के कार्य पूरे हो जाने से जयंत एवं निगाही परियोजना के कोयला परिवहन व आम जनता के लिए सम्पूर्ण अलग मार्ग की व्यवस्था सुनिश्चित हो सकेगी। साथ ही एनसीएल मोरवा के सर्किट हाउस से उत्तरप्रदेश बार्डर (खनहना बैरियर) तक सीसी रोड बनाने में भी सहयोग कर रही है। एनसीएल अपनी सीएसआर गतिविधिओं से भी सिंगरौली परिक्षेत्र में सड़क निर्माण पर वृहद स्तर पर कार्य कर रहा है और पिछले 7 वर्षों में कंपनी ने 150 करोड़ से अधिक खर्च कर 210 किलोमीटर सड़कों का निर्माण किया है ।